Home / देश / शिवसेना का तंज- चंद्रबाबू बेवजह खुद को थका रहे

शिवसेना का तंज- चंद्रबाबू बेवजह खुद को थका रहे

मुंबई. लोकसभा चुनाव नतीजों से पहले भाजपा विरोधी मोर्चा तैयार करने की आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की कोशिशों पर शिवसेना ने तंज कसा। ‘सामना’ के संपादकीय में लिखा है कि चंद्रबाबू बिना किसी कारण के खुद को थका रहे हैं। उम्मीद है कि उनका उत्साह 23 मई तक बना रहेगा। चंद्रबाबू ने पिछले दो दिन (शनिवार और रविवार) को दिल्ली और लखनऊ में गैर एनडीए दलों के कई नेताओं के मुलाकात की थी।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

शिवसेना के मुखपत्र सामना ने लिखा, ‘‘विपक्ष में प्रधानमंत्री पद के कम से कम पांच दावेदार हैं। इसलिए उनका मोहभंग होने की संभावना ज्यादा हैं। कौन सरकार बनाएगा? यह जवाब पहले ही दिया जा चुका है। अमित शाह ने पांचवें चरण के दौरान ही कह दिया था कि भाजपा 300+ सीटें जीतकर सरकार बनाएगी। ऐसे में चंद्रबाबू बिना किसी कारण के खुद को थका रहे हैं। उम्मीद है कि उनका उत्साह 23 मई तक बना रहेगा।”

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

चंद्रबाबू ने दो बार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और राकांपा नेता शरद पवार से मुलाकात की। इसके बाद वे यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी, आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल, बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से भी मिले थे। बाद में खबर आई कि मायावती सोमवार दिल्ली में राहुल और सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगी। लेकिन बसपा ने साफ किया है कि आज मायावती का ऐसा कोई कार्यक्रम नहीं है। इसके अलावा नायडू ने भाकपा नेता सुधाकर रेड्डी और लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव के साथ भी चर्चा की थी।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

चंद्रबाबू कुछ महीने पहले तक एनडीए का ही हिस्सा थे। लेकिन आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा न मिलने से नाराज होकर उन्होंने वह खेमा छोड़ दिया। अब वे भाजपा के खिलाफ सभी विरोधी पार्टियों को एक पटरी पर लाने की कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए उन्होंने तृणमूल पार्टी प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी से भी संपर्क किया।

Check Also

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने डीआरडीओ का किया निरीक्षण

रक्षा अनुसंधान के क्षेत्र में हो रहे नए प्रयोगों की ली जानकारी ग्वालियर। रक्षा मंत्री …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.