Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / भारत का करारा जवाब, पाक में हो रहा अल्पसंख्यकों पर अत्याचार

भारत का करारा जवाब, पाक में हो रहा अल्पसंख्यकों पर अत्याचार

न्यूयॉर्क। यूनाइटेड नेशन के मंच से शुक्रवार को भारत के खिलाफ नफरत उगलने वाले पाक पीएम इमरान खान के बयान पर आज भारत की ओर से करारा जवाब दिया गया है। राइट टू रिप्लाई के तहत भारत की यूएन में प्रथम सचिव विदिशा मैत्रा ने पाकिस्तान के हालातों और पाक पीएम के गैरजिम्मेदाराना बयान पर सवाल खड़े किए है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

भारत की ओर से पाक पीएम इमरान द्वारा यूएन के मंच का इस्तेमाल नफरत और झूठ से भरा भाषण देने पर नाराजगी जताई गई है। भारत की ओर से कहा गया कि इमरान खान द्वारा यूएन मंच का गलत इस्तेमाल किया गया। उन्होंने भड़काऊ भाषण दिया। उनका भाषण नफरत से भरा था।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

परमाणु बम पर इमरान खान के UNGA में गैरजिम्मेदाराना बयान पर भी भारत ने सवाल खड़े किए। भारत ने कहा कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर अत्याचार किए जा रहे हैं। वहां की धरती का इस्तेमाल आतंक को बढ़ावा देने के लिए किया जा रहा है। पाक पीएम कहते हैं पाकिस्तान में एक भी आतंकी नहीं है, जबकि यूएन की सूची में मौजूद 155 आतंकी पाकिस्तान में मौजूद हैं। भारत ने पाक से सवाल किया कि अगर उनके देश में आतंकी नहीं हैं तो क्या वे यूएन ऑब्जर्वर्स को इसकी पुष्टि के लिए उनके देश में आने देंगे।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

यूएन के मंच से इमरान खान ने कश्मीर का मुद्दा उठाते हुए कहा था कि कश्मीर पर भारत की कार्रवाई के बाद परमाणु सम्पन्न देश आमने-सामने होंगे। कर्फ्यू हटने के बाद कश्मीर में खून-खराबा होगा, भारत में पुलवामा जैसे आतंकी हमले होंगे। इसके बाद फिर भारत हम पर आरोप लगाएगा। अगर उन्होंने कुछ किया तो पाकिस्तान क्या करेगा। हम आखिरी वक्त तक लड़ेंगे और परमाणु जंग इन दो देशों की सीमा से बाहर तक जाएगी।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

इमरान ने कहा था कि कश्मीर में मुस्लिमों के साथ अन्याय हो रहा है। यही वजह है कि वे हथियार उठा रहे हैं। इस्लाम के नाम पर हथियार नहीं उठाए जा रहे हैं, बल्कि अन्याय के खिलाफ लड़ाई के लिए हथियार उठा रहे हैं।

Check Also

राज्यपाल ने कैट की स्टेट गवर्निंग काउंसिल को किया संबोधित

ग्वालियर। राज्यपाल लालजी टंडन आज सुबह राजकीय विमान से एक दिवसीय प्रवास पर ग्वालियर पहंुचे। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.